यूक्रेन और रशिया के बीच छिड़ी जंग के बाद हर कोई अपनों की वतन वापसी लाने के इंतजार में है इस बीच यूक्रेन की सुमी स्टेट यूनिवर्सिटी में MBBS फाइनल में पढ़ने वाली ग्वालियर की आफरीन गुरुवार शाम को भारत लौट आई।ग्वालियर की आफरीन यूक्रेन में साल 2016 से MBBS की पढ़ाई कर रही है, इस साल उसका फाइनल ईयर था। गुरुवार रात ग्वालियर स्टेशन पर पहुंचने के बाद आफरीन की आंखें भर आईं। ग्वालियर स्टेशन पर आफरीन के परिजनों ने उसका स्वागत किया। आफरीन ने बताया कि वो यूक्रेन से आने वाली आखिरी फ्लाइट से भारत लौटी है, सुबह से खाना तक नही खाया है, ग्वालियर लौटी आफरीन ने राहत की सांस ली है, लेकिन उसे इस बात का दुख है कि उसकी फ्लाइट के बाद यूक्रेन से भारत सहित सभी देशों की उड़ाने रद्द कर दी है। आफरीन ने बताया कि इतने सालों में यूक्रेन में कोई दिक्कत नही है। लेकिन पिछले एक महीने के अंदर हालात बिगडते गए, एकदम से युद्ध छिड़ गया। आफरीन ने कहा कि हमारे साथी सभी यूक्रेन में फंस गए हैं, मैं गवर्नमेंट से कहना चाहती हूं कि मैं बहुत अभी परेशान हूं मैं चाहती हूं कि वह सभी साथी जल्द इंडिया आ जाए जल्दी। सुमी यूनिवर्सिटी में करीब 600 के लगभग भारतीय छात्र छात्राएं पढ़ रहे हैं, इनमें ग्वालियर के भी छात्र हैं। वहां सिचुएशन खराब हो रही है और वहां लोगों को बंकर में जाने के लिए तैयार रहने को कहा है। 10-12 दिन के खाने पीने का सामान रखने के लिए कहा है, साथ ही इलेक्ट्रिसिटी भी बंद होने की आशंका है और फिर संपर्क भी टूट जाएंगे। वहीं आफरीन के पिता आरिफ खान ने बताया कि मेरी बेटी 2016 से पढ़ रही थी,।उसका लास्ट ईयर था। अभी जो हालात बने इससे हम लोग तनाव में थे जो खबरें आ रही थी उससे हम परेशान थे बेटी से बात हुई तो बेटी भी बहुत परेशान थी, हमने किसी तरह से इनका टिकट करवाया और यह भारत आ गई। ऊपर वाले का शुक्र है कि मेरी बेटी फ्लाइट से लौट आए जो आखरी फ्लाइट थी। उसके बाद युद्ध के चलते वहां से सारी फ्लाइट कैंसिल हो गई है।

Leave a Reply