हिंदू महासभा द्वारा आज महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर स्मृति दिवस मनाया। जहां महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे और नारायण आप्टे के नाम से विवादित संत कालीचरण और अन्य 4 को गोडसे-आप्टे भारत रत्न प्रदान किया गया। आपको बता दे कि आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि है, आज ही के दिन महात्मा गांधी की नाथूराम गोडसे और नारायण आप्टे ने गोली मारकर हत्या कर दी थी, जिसके बाद दोनों की 30 जनवरी 1948 को ही दिल्ली के बिरला भवन से गिरफ्तारी हुई थी।यही कारण है कि जहां आज पूरा देश राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को अपने श्रद्धा सुमन अर्पित कर रहा है तो वहीं दूसरी तरफ ग्वालियर शहर में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे और नारायण आप्टे का महिमामंडन किया जा रहा है उन के जयकारे लगाए जा रहे हैं, उनके नाम के भारत रत्न सम्मान भी दिए जा रहे हैं, हिंदू महासभा ने आज ग्वालियर के दौलतगंज स्थित अपने दफ्तर में आज के दिन शोक व्यक्त करते हुए स्मृति दिवस के रूप में मनाया। इस दौरान हिंदू महासभा ने नाथूराम गोडसे और नारायण आप्टे के नाम भारत रत्न से पांच लोगों को शाल श्रीफल माला और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया इनमें महात्मा गांधी को अपशब्द बोलने वाले जेल में बंद संत कालीचरण भी शामिल है,जिनका सम्मान हिन्दू महासभाई प्रमोद लोहपात्रे को दिया गया,जो कालीचरण के रिहा होने पर उन्हें प्रदान करेंगे। नाथूराम गोडसे नारायण आप्टे भारत रत्न सम्मान हिंदू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉक्टर जयवीर भारद्वाज ने दिया, हिंदू महासभा के दफ्तर में महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे के जयकारे भी लगाए गए, हिंदू महासभा ने कहा कि हम मोहनदास करमचंद गांधी का सम्मान करते हैं लेकिन उन्होंने भारत का विभाजन किया इसलिए उनका प्रतिकार नाथूराम गोडसे और नारायण आप्टे ने किया था, हिंदू महासभा ने संत कालीचरण के अलावा चार अन्य हिंदू महासभा के कार्यकर्ता जिन्हें हिंदू महासभा के दफ्तर में नाथूराम गोडसे की प्रतिमा स्थापित किए जाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था उन्हें ही भारत रत्न से सम्मानित किया है इस दौरान हिंदू महासभा ने हिंदुस्तान और पाकिस्तान को एक करने का संकल्प भी लिया हिंदू महासभा ने कहा कि हम हिंदुस्तान और पाकिस्तान को एक कर अखंड भारत बनाएंगे।

Leave a Reply