काठमांडू। नेपाल के निवेश बोर्ड (आईबीएन) और भारत के एनएचपीसी लिमिटेड ने नेपाल में 1200 मेगावाट बिजली उत्पादन की संयुक्त क्षमता वाली दो बड़ी पनबिजली परियोजनाओं के निर्माण के लिए बृहस्पतिवार को एक समझौते पर हस्ताक्षर किये। आईबीएन के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुशील भट्ट और एनएचपीसी के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक अभय कुमार सिंह ने प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा की उपस्थिति में समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये।

इस अवसर पर नेपाल के वित्त मंत्री जनार्दन शर्मा, उद्योग, वाणिज्य एवं आपूर्ति मंत्री दिलेन्द्र प्रसाद बदु और ऊर्जा मंत्री पम्फा भूषल मौजूद थे। पनबिजली के लिए नेपाल और भारत के बीच हुआ यह सबसे बड़ा एमओयू है। वेस्ट सेती पनबिजली (750 मेगावाट) और सेती नदी 6 पनबिजली परियोजना पर संयुक्त रूप से 2.1 अरब डॉलर का खर्च आएगा।

 

Leave a Reply